Xossip

  #61  
Old 30th July 2015
matribhaktah's Avatar
matribhaktah matribhaktah is offline
Moderator
Visit my website
  Moderator: Moderator of some forums      
Join Date: 13th December 2014
Location: .:| BFF |:.
Posts: 54,427
Rep Power: 148 Points: 114043
matribhaktah has hacked the reps databasematribhaktah has hacked the reps databasematribhaktah has hacked the reps databasematribhaktah has hacked the reps databasematribhaktah has hacked the reps database
post more bro
______________________________



Reply With Quote
  #62  
Old 30th July 2015
Zeeshan.malik168's Avatar
Zeeshan.malik168 Zeeshan.malik168 is offline
See U If U seen~
Visit my website
 
Join Date: 22nd May 2015
Location: .:| BFF |:.
Posts: 55,315
Rep Power: 63 Points: 19274
Zeeshan.malik168 is one with the universeZeeshan.malik168 is one with the universeZeeshan.malik168 is one with the universeZeeshan.malik168 is one with the universeZeeshan.malik168 is one with the universeZeeshan.malik168 is one with the universeZeeshan.malik168 is one with the universeZeeshan.malik168 is one with the universeZeeshan.malik168 is one with the universeZeeshan.malik168 is one with the universeZeeshan.malik168 is one with the universe

Reply With Quote
  #63  
Old 30th July 2015
FrankanstienTheKount FrankanstienTheKount is offline
Ms
 
Join Date: 7th March 2015
Posts: 59,961
Rep Power: 140 Points: 101181
FrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps database
Quote:
Originally Posted by Gunhawk View Post
kyun dukhti rag chhed rahe ho yaar
Bhai ek koshish kar raha hu us dor ko dubara jine ki
______________________________
जिन्दगी की हकीकत को बस इतना ही जाना है दर्द में अकेले है और खुशियों में सारा जमाना है

Reply With Quote
  #64  
Old 30th July 2015
FrankanstienTheKount FrankanstienTheKount is offline
Ms
 
Join Date: 7th March 2015
Posts: 59,961
Rep Power: 140 Points: 101181
FrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps database
Quote:
Originally Posted by matribhaktah View Post
mast mast frenki bhai
Thanks bhai
______________________________
जिन्दगी की हकीकत को बस इतना ही जाना है दर्द में अकेले है और खुशियों में सारा जमाना है

Reply With Quote
  #65  
Old 30th July 2015
FrankanstienTheKount FrankanstienTheKount is offline
Ms
 
Join Date: 7th March 2015
Posts: 59,961
Rep Power: 140 Points: 101181
FrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps database
Next quotes jaldi hi
______________________________
जिन्दगी की हकीकत को बस इतना ही जाना है दर्द में अकेले है और खुशियों में सारा जमाना है

Reply With Quote
  #66  
Old 30th July 2015
FrankanstienTheKount FrankanstienTheKount is offline
Ms
 
Join Date: 7th March 2015
Posts: 59,961
Rep Power: 140 Points: 101181
FrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps database
सबके हाथ में मोबाइल आ गया और इसी मोबाइल ने
सबको बाँट दिया,अलग कर दिया।
असली मज़ा तो तब आया था जब घर में एक
ही फ़ोन होता था और सबके कॉल उसी
पर आया करते थे।
और जब पापा आवाज़ लगा कर कहते की "ले तेरे लिए
फ़ोन हैं " तो छाती 2 इंच चौड़ी हो
जाती थी।
#पुरानी_टेलीफ़ोन_की_याद
______________________________
जिन्दगी की हकीकत को बस इतना ही जाना है दर्द में अकेले है और खुशियों में सारा जमाना है

Reply With Quote
  #67  
Old 30th July 2015
FrankanstienTheKount FrankanstienTheKount is offline
Ms
 
Join Date: 7th March 2015
Posts: 59,961
Rep Power: 140 Points: 101181
FrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps database
बचपन से इस स्विच बोर्ड से बहुत सारी यादें
जुड़ी है....
आज भी ये बोर्ड सुचारु रुप से अपनी सेवा
दे रहा है..
इस बोर्ड के नीचे में एक दो खंड वाला
आलमारी है.
जिसमें उपर वाले खंड में पुराने जमाने का फिलिप्स का दु इन वन
रेडियों और टेप रहता था. दिन भर रेडियों बजता और
रील वाला कैसेट लगा के गुलसन कुमार के भक्ति वाले
गीत बजा करते थे. बचपन में याद है मुझे एक बार
पापा के साथ शहर गया था. दॉत का इलाज करने तब किशोर कुमार
जी के ३ कैसेट खरीदवाया था .उस समय
# ये_शाम_मस्तानी वाला मेरा फेवरेट हुआ करता था
और आज भी है. साथ ही कुछ दिनों बाद
मैने अपने पॉकेट मनी के इकट्टा करके अभिजित
जी के चलने लगी है हवाए वाला कैसेट
पुरे ४५ रु में खरीदा था...
एक बार इसी बोर्ड से मुझे करंट का जोरदार झटका
भी लगा था . दीवाली के दिनों में
झालर लाइट लगाते वक्त ये घटना घटी थी.
उस समय मेरी उचाई छोटी थी
तब डण्डे से या स्टुल में चढ़ के लाइट चालु करता था. यदि मुझसे
पहले कोई चालु कर देता तो दुबारा बंद करके चालु किया करता
था.बटन की फटटटटटट की आवाज सुनना
बहुत प्यारा लगता है....
कभी लाइट फ्युज हो जाती तो १० रु
वाली बजाज का बल्ब दुकान से खरीद लाता
और टेबल के उपर स्टुल रख के उपर चढ के लगाता , तब
ऐसी फिलिग्स आती मानों मैं बहुत बड़ा
बिजली मिस्त्री हूं. कभी
बल्ब का फिलामेंट टुट कर फ्युज हुआ रहता तो घंटो तक उसे
जोड़ने में लगा देता पर हमेशा जीरो बटा लुल
ही हाथ लगता.
______________________________
जिन्दगी की हकीकत को बस इतना ही जाना है दर्द में अकेले है और खुशियों में सारा जमाना है

Reply With Quote
  #68  
Old 30th July 2015
FrankanstienTheKount FrankanstienTheKount is offline
Ms
 
Join Date: 7th March 2015
Posts: 59,961
Rep Power: 140 Points: 101181
FrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps database
जिंदगी में वो ही लड़के कामयाब हो पाए जो
फटी गद्दी वाली साइकिल में
भी आराम से बैठकर उसे मीलों दूर चला
लेते थ
______________________________
जिन्दगी की हकीकत को बस इतना ही जाना है दर्द में अकेले है और खुशियों में सारा जमाना है

Reply With Quote
  #69  
Old 30th July 2015
FrankanstienTheKount FrankanstienTheKount is offline
Ms
 
Join Date: 7th March 2015
Posts: 59,961
Rep Power: 140 Points: 101181
FrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps database
अंतर्देशीय पत्र कार्ड हमारे बचपन में एक दूसरे का
हाल चाल जानने का सबसे सस्ता और आम जरिया
था....'आदरणीय पिता जी और पूज्य माता
जी को सादर प्रणाम,
चीरंजीवी राजीव
को शुभाशीष और प्यारी लता को ढेर सारा
स्नेह ' ऐसे ही कुछ स्टार्टिंग होती
थी पत्र की....पत्र लिखने के बाद उसे
फोल्ड कर के गोंद से चिपकाना अपने आप में एक कला
थी....कभी कभी तो थूक से
चिपकाने का एक्सपर्टीज्म भी दिखा डालता
था....खोलते वक्त अगर गलत तरह से फाड़ दिया तो माँ के हाथों
कुटाई भी हो जाती
थी....हल्के हरे और नीले रंग का ये
पत्र जब पोस्टमैन लाता तो गेट की तरफ दौड़ पड़ता...
फिर इसकी फड़फड़ाहट दिल में एक तरंग पैदा
करती... अन्दर छुपे सन्देश पढने की
उत्सुकता को तो क्या बयाँ करूँ...चिट्टी लिखने का
भी एक अनूठा और अनोखा मज़ा था...लाल रंग के लैटर
बॉक्स में फिर डाल के आना भी एक खेल के सामान
था..
आज लाल,नीले और हरे रंग कहीं खो से
गए...हम चाहे sms, फोन, व्हाट्सएप, फेसबुक आदि से
सन्देश भेज दे लेकिन चिट्ठी के बिना दुनिया
बेरंगी लगती है...कई प्रेमियों के प्रेम को
प्रवाहित करने वाले....कई माँओं को अपनी औलादों से
जोड़ने वाले...कई पिताओं को अपने बेटों से बाँधने वाले...कई भाइयों
को अपनी बहनों पर अपना स्नेह न्योछावर करने
वाले...कई रिश्तेदारों के रिश्ते निभाने वाले....और कई दोस्तों में कूट
कूट कर यारियाँ भरने वाले इस अंतर्देशीय पत्र कार्ड
को हम सलाम करते हैं........_/\_
______________________________
जिन्दगी की हकीकत को बस इतना ही जाना है दर्द में अकेले है और खुशियों में सारा जमाना है

Reply With Quote
  #70  
Old 30th July 2015
FrankanstienTheKount FrankanstienTheKount is offline
Ms
 
Join Date: 7th March 2015
Posts: 59,961
Rep Power: 140 Points: 101181
FrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps database
बचपन में कमीने दुकानदार छुट्टे पैसे होते हुए
भी हम लौंडो को ये पकड़ा देते थे । इसमे दो फ्लेवर
आते थे आम और इमली। मुझे आम पसंद था और
तुम्हे इमली । पर तुम हमेशा गुस्से से लेकिन
मुस्कुराते हुए कहती : "देखो तुम्हे एक तो ये
भी खानी पड़ेगी ।" अब
तुम्हारा हुक्म कैसे टाल सकता था । इमली फ्लेवर
मुझे उतना इसलिए भी नहीं पसंद था
क्यूंकि इस को मुहँ में डालते ही एक करंट सा दौड़ने
लगता था
______________________________
जिन्दगी की हकीकत को बस इतना ही जाना है दर्द में अकेले है और खुशियों में सारा जमाना है

Reply With Quote
Reply Free Video Chat with Indian Girls


Thread Tools Search this Thread
Search this Thread:

Advanced Search

Posting Rules
You may not post new threads
You may not post replies
You may not post attachments
You may not edit your posts

vB code is On
Smilies are On
[IMG] code is On
HTML code is Off
Forum Jump


All times are GMT +5.5. The time now is 01:40 PM.
Page generated in 0.02123 seconds